प्रसन्न और दुखी व्यक्ति में अंतर

प्रसन्न व्यक्ति वह है ,
जो निरंतर स्वयं का
मूल्यांकन एवम् सुधार करता है।

जबकि दुःखी वह है ,
जो दुसरो का मूल्यांकन करता रहता है।

Leave a Reply