हो सके तो जिंदिगी में सुकून ढूँढ़िये क्योंकि…

हो सके तो जिंदिगी में सुकून ढूँढ़िये,
ये ख्वाहिशें तो जिंदिगी भर खत्म नही होंगी।

Leave a Reply