Month: September 2017

कमियाँ तो मुझमे भी बहुत है पर

कमियाँ तो मुझमें भी बहुत है, पर मैं बेईमान नहीं। मैं सबको अपना मानता हूँ, सोचता फायदा या नुकसान नहीं। एक शौक है शान से जीने का, कोई और …

बेहतर परिणाम जरूर मिलेंगे

माली प्रतिदिन पौधों को पानी देते है , मगर फल सिर्फ मौसम में ही आते हैं। इसीलिए प्रतिदिन बेहतर काम करना चाहिए। परिणाम समय पर जरूर मिलेगा।

समय एक ऐसी गाड़ी है, जिसमे

समय एक ऐसी गाड़ी है, जिसमें ब्रेक नहीं और रिवर्स गियर भी नहीं है। लेकिन वक्त सबको मिलता है, ज़िन्दगी बदलने के लिए । पर ज़िन्दगी दोबारा नहीं मिलती …

शमशान के बाहर भी क्या खूब लिखा था….

श्मशान के बाहर लिखा था मंजिल तो तेरी यही थी, बस ज़िन्दगी गुजर गई आते आते। क्या मिला तुझे इस दुनिया से? अपनों ने ही जला दिया तुंझे जाते …