मनुष्य की वास्तविक पूंजी

मनुष्य की वास्तविक पूंजी धन नहीं,
बल्कि उसके विचार हैं,
क्यों कि धन तो खरीदारी में
दूसरों के पास चला जाता हैं,
पर विचार अपने पास ही रहते हैं ।

Leave a Reply